आयुर्वेदिक गुणों से भरपूर है मुलेठी, रोजाना करें सेवन और फिर देखें चमत्कार |

आयुर्वेदिक औषधि गुणों से भरपूर मुलेठी का इस्तेमाल कई बीमारियों को दूर करने के लिए किया जाता है। स्वाद में मीठी मुलेठी कैल्शियम, ग्लिसराइजिक एसिड, एंटी-ऑक्सीडेंट, एंटीबायोटिक, प्रोटीन और वसा के गुणों से भरपूर होती है। इसका इस्तेमाल श्वसन और पाचन क्रिया के रोग की आयुर्वेदिक दवाइयां बनाने के लिए किया जाता है। इसके अलावा सर्दि में होने वाली समस्याएं जैसे सर्दी-खांसी, जुकाम, कफ, गले और यूरिन इंफैक्शन की प्रॉब्लम को भी यह जड़ से खत्म कर देता है। इसका सेवन कैंसर जैसी कई बीमारियों को भी दूर करने में मदद करता है। तो चलिए जानते है आयुर्वेदिक औषधि गुणों से भरपूर मुलेठी का सेवन किन बीमारियों को दूर कर सकता है।
1. सर्दी-खांसी और कफ
10 ग्राम मुलेठी, 10 ग्राम काली मिर्च, 5 ग्राम लौंग, 5 ग्राम हरीतकी और 20 ग्राम मिश्री को मिलाकर 1 चम्मच शहद के साथ चाट लें। इसका सेवन कफ, सर्दी-खांसी और जुकाम समस्या को दूर करता है।

PunjabKesari

2. गले के रोग
गले की सूजन, इंफैक्शन, खराश, मुंह में छाले और गला बैठने पर मुलेठी का एक टुकड़ा लेकर उसे चूसे। इससे आपकी सभी प्रॉब्लम दूर हो जाएगी।

3. पेट रोग
पेट और आंतों में ऐठन होने पर मुलेठी का चूर्ण शहद के साथ दिन में 2-3 बार लें। पेट दर्द, सूजन, ऐंठन, आंतो में कीड़े के रोग दूर हो जाएगी।

PunjabKesari

4. अल्सर
अल्सर की समस्या को दूर करने के लिए 4 ग्राम मुलेठी पाउडर को दूध में मिलाकर पीएं। इसके अलावा दिन में 2-3 बार शहद के साथ इसका सेवन भी अल्सर की बीमारी को दूर करने में मदद करता है।

5. दिल के रोग
4 ग्राम मुलेठी को देसी घी और शहद में मिलाकर रोजाना खाने से दिल के रोग और हार्ट अटैक का खतरा कम हो जाता है।

PunjabKesari

6. यूरिन इंफैक्शन
यूरिन इंफैक्शन, जलन, और बार-बार यूरिन आने की समस्या को दूर करने के लिए मुलेठी सबसे अच्छा उपाय है। इसके लिए 2-4 ग्राम मुलेठी चूर्ण को गर्म दूध के साथ पीएं।

7. कैंसर
रोजाना मुलेठी चूसने या इसके पाउडर को दूध के साथ लेने से कैंसर का खतरा भी कम हो जाता है। इसके अलावा इसका सेवन पाचन क्रिया को भी ठीक रखता है।

PunjabKesari

Please follow and like us:

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *