खट्टे डकार का मिनटों में करे इलाज इस असरदार घरेलू नुस्खे के साथ // Ayurvedic Nuskha //

बदलते लाइफस्टाइल में लोग अपनी डाइट में चटपटी और मासलेदार चीजों को अधिक अहमियत देने लगे है। ज्यादा मसालेदार चीजों का सेवन करने से खट्टे डकार, पेट फूलना, एसिडिटी, कब्ज की समस्या अक्सर रहती है। ऐसा नहीं  है कि चटपटा या मसालेदारा खाना खाने से ही खट्टे डकार आते है बल्कि इसकी कई और भी वजह हो सकती है, जिन्हें अक्सर हम लोग अनदेखा कर देते है। आज हम आपको खट्टे डकारआने के कुछ कारण और उनसे छुटकारा पाने के घरेलू नुस्खे भी बताएंगे।

 

खाना खाने की आदत
गलत ढंग से खाना खाने या खाने के तुरंत बाद लेट जाने से पाचन क्रिया बिगड़ी है। कई बार तो अच्छी तरह से खाना चबाकर न खाने या खाने के बीच पानी पीने से पेट में गैस बनने लगती है, जो डकार के जरिए बाहर आती है।

 

खाली पेट चाय या कॉफी पीना
सुबह खाली पेट चाय या कॉफी आदि पीने से पेट में गैस बनने लगती है और अक्सर एसिडिटी रहने लगती है। इसी की वजह से खाना अच्छे से पच नहीं पाता और खट्टे डकार आने लगते है।

 

प्रैग्नेंसी
प्रैग्नेंसी में महिलाओं को सांस फूलने की समस्या आम होती है। जिसके कारण जरूरत से ज्यादा सांस अंदर चली जाती है। जिससे डकार आना शरू हो जाती है।

खट्टे डकार से बचने के उपाएं

1. दही खट्टे डकार को रोकने में फायदेमंद होता है। इसमें अम्ल होते है जो डकार बनाने वाले बैक्टीरिया को खत्म कर देता है।

2. सौंफ खाने से पेट की सारी प्रॉब्लम खत्म हो जाती है। रोजाना सौंफ के 20-30 दाने खाने से खट्टे डकार आने बंद हो जाते है।

3. पुदीने के पत्ते भी पेट के लिए बहुत फायदेमंद होते हैं। पत्तों को उबालकर या धोने के बाद खाने से इस समस्या से तुंरत छुटकारा पाया जा सकता है।

Please follow and like us:

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *